ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
क्वालिटी यूथ इनीसिएटिव समिट
July 31, 2019 • समाचार

सिटी मोन्टेसरी स्कूल का कानपुर रोड कैम्पस एवं अलीगंज (प्रथम कैम्पस), खनऊ का 23 सदस्यीय दल माॅरीशस में आयोजित 'क्वालिटी यूथ इनीसिएटिव समिट' में प्रतिभाग कर स्वदेश लौट आया। इस सम्मेलन के दौरान सी.एम.एस. छात्रों ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में 12 पुरस्कार अर्जित कर देश का नाम रोशन किया। स्वदेश वापसी पर इस छात्र दल का विद्यालय के शिक्षकों व अभिभावकों ने भव्य स्वागत किया। सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी श्री हरि ओम शर्मा ने बताया कि यह अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन माॅरीशियन सोसाइटी फाॅर क्वालिटी कन्ट्रोल सर्किल एवं माॅरीशियन चैप्टर आॅफ द वल्र्ड काउन्सिल फाॅर टोटल क्वालिटी एण्ड एक्सीलेन्स इन एजुकेशन के संयुक्त तत्वावधान में माॅरीशस में आयोजित हुआ, जिसमें विश्व के कई देशों के बाल प्रतिनिधियों व क्वालिटी विशेषज्ञों ने प्रतिभाग किया।
 श्री शर्मा ने बताया कि सम्मेलन के अन्तर्गत आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में सी.एम.एस. छात्रों ने अपने ज्ञान-विज्ञान व रचनात्मक का शानदार प्रदर्शन कर देश का नाम रोशन किया। जहाँ एक ओर सी.एम.एस. कानपुर रोड कैम्पस के छात्रों ने केस स्टडी, कवि सम्मेलन सीनियर, कवि सम्मेलन जूनियर, आर्ट एण्ड पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रतियोगिताओं में पाँच द्वितीय पुरस्कार अर्जित किये तो वहीं दूसरी ओर अलीगंज (प्रथम कैम्पस) के छात्रों ने केस स्टडी प्रजेन्टेशन में 'फिलिप क्रास्बी अवार्ड' अपने नाम किया जबकि कवि सम्मेलन प्रतियोगिता में 'बेस्ट स्पीकर' एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रतियोगिता में 'एक्सीलेन्स अवार्ड' जीता। इसके पोस्टर एवं स्लोगन प्रतियोगिता में तृतीय पुरस्कार एवं वाद-विवाद प्रतियोगिता में तृतीय पुरस्कार जीतने के अलावा 'बेस्ट इनोवेटिव टीम' का खिताब भी अपने नाम किया।
 श्री शर्मा ने बताया कि क्वालिटंी यूथ इनीसिएटिव समिट में प्रतिभाग करने वाले सी.एम.एस. कानपुर रोड कैम्पस के छात्रों में अनन्या पटेल, रिमी पटेल, शाश्वत पटेल, शिवा पटेल, शिवांगी पटेल, यशस्वी पटेल, राहुल अरोड़ा, श्रृंगारिका गुप्ता, सुहानी त्रिपाठी एवं ज्योत्सना गुरनानी शामिल थे। इस छात्र दल का नेतृत्व शिक्षिका श्रीमती शिवानी सिंह एवं शिक्षक श्री देवेश कुमार त्रिवेदी ने किया। इसी प्रकार, सी.एम.एस. अलीगंज (प्रथम कैम्पस) के प्रतिभागी छात्रों में लावण्या सिसोदिया, आयुषी केसरवानी, जान्हवी शुक्ला, हर्ष सिंह वर्मा, श्रेयस कुमार सिंह, प्रियांशी किशोर, अंशिका गुप्ता, कशिश निगम एवं तुमुल शुक्ला शामिल थे। इस छात्र दल का नेतृत्व शिक्षिका सुश्री शुचि तिवारी ने किया जबकि शिक्षिका सुश्री परनीता गर्ग डेप्युटी टीम लीडर के रूप में माॅरीशस गई थी।
 श्री शर्मा ने बताया कि स्वदेश लौटे सी.एम.एस. छात्रों ने एक अनौपचारित वार्ता में बताया कि इस सम्मेलन ने मानव जीवन में गुणवत्ता की महत्ता को रेखांकित किया है। वर्तमान युग की आश्चर्यजनक प्रगति को देखते हुए सभी जगहों पर, चाहे वह शैक्षिक संस्था हो या जीवन का कोई भी क्षेत्र हो, गुणवत्ता की आवश्यकता है। छात्रों का कहना था कि यह अन्तर्राष्ट्रीय क्वालिटी सर्किल सम्मेलन बदलते विश्व परिदृश्य के अनुरूप छात्रों को तैयार करने एवं उनमें समस्याओं का सकारात्मक समाधान खोजने, विश्लेषण दक्षता का विकास, टीम वर्क, सृजनात्मक क्षमता का सदुपयोग तथा विन-विन एटिट्यूट विकसित करने में काफी मददगार साबित हुआ।