ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
छात्रायें अच्छे सपने देखें और उन्हें साकार करने के लिए आगे बढे
July 12, 2019 • समाचार

रायबरेली जनपद के लखनऊ रोड पर स्थित एक होटल के हाॅल में बालिका सुरक्षा जागरूकता जुलाई अभियान-कवच के तहत आयोजित एक कार्यक्रम का प्रदेश की अपर पुलिस महानिदेशक उ0प्र0 पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड रेणुका मिश्रा द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर शुभारम्भ किया तथा विभिन्न विद्यालयों की छात्राओं द्वारा नारी सशक्तिकरण पर बनाई गयी पोस्टर प्रदर्शनी को देखा व छात्राओं की भूरि-भूरि प्रशांसा की। उन्होंने कहा कि छात्रायें अच्छे सपने देखें और उन्हें साकार करने के लिए आगे बढे़ परन्तु यह भी ध्यान रखें कि सपने सोते हुए देखे जाते जिसे पूरा करने के लिए जागे और अपने सपने/लक्ष्यों को बेहतर अंजाम देकर आगे बढ़े। उन्होंने कहा कि अभिभावक बालिकाओं के सपनों को पूरा करने में आगे और यदि कही कोई दिक्कतें/रूकावटे आती है तो उसे दूर करें और बालिकाओं को आगे बढ़ने में मद्द करें। उन्होने कहा कि बालिका सुरक्षा जागरूकता अभियान कार्यक्रम मा0 मुख्यमंत्री जी की शीर्ष प्राथमिकताओं में से एक है। जिसे गम्भीरता से लिया जाये। अभियान का मुख्य उद्देश्य बालिकाओं को जागरूक, सशक्त करना व उनकी सुरक्षा में अधिक इजाफा करना है।
बालिकाओं का आहवान करते हुए रेणुका मिश्रा ने कहा कि बालिकाएं पढ़ाई के साथ-साथ प्रदेश सरकार द्वारा बालिकाओं/माहिलाओं की सुरक्षा हेतु संचालित कानून/योजनाए/सुविधाएं को भी जाने तथा अपना सर्वागीण विकास की ओर बढ़े। उन्होंने कहा कि यदि महिलाए सशक्त है तो हमारा घर परिवार देश समाज सशक्त व सुरक्षित है उन्होंने महिला सशक्तिकरण पर एक कहानी का दृष्टांग व छात्राओं द्वारा तैयार की गई पोस्टर में लिखि भाषा को पढ़कर सुनाया कि महिलाए को सशक्तिकरण के लिए स्वयं ही आगे बढ़ना होगा। कोई भी देख तरक्की के शिखर पर तब तक नही पहुच सकता जबतक उसकी महिलाए कंधे से कंधा मिलाकर न चले। उन्होंने कहा कि देश व समाज को मजबूत बनाने के लिए ईमानदारी के साथ अपने कर्तव्यों का भी भली-भांति पालन करना पड़ेगा। किसी के साथ किसी भी का धोखा या अन्य न करें। बल्कि अपने भाई-बहनों को भी सही राह बताये उनकों बताये कि जैसे अपने मां-बाप व बहने वेसे अन्य के भी होते है।
जिलाधिकारी रायबरेली, नेहा शर्मा व पुलिस अधीक्षक रायबरेली, सुनील कुमार सिंह ने बताया कि जनपद में 1 जुलाई से 31 जुलाई तक मनाये जाने वाले बालिका सुरक्षा जागरूकता अभियान को सफल बनाने के निर्देश सभी अधिकारियों जिसमें जिला स्तरीय समिति, थानेवार गठित टीमें आदि गठित टीमों द्वारा बालिकाओं को जागरूक कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एडीजी तथा उपस्थित जनों को बालिका सुरक्षा जागरूकता अभियान के तहत जनपद में किये जा रहे कार्यो के साथ ही महिला हेल्पलाइन 181, वीमेन पावर हेल्पलाइन 1090, 1098 डायल 100, वन स्टाप सेन्टर, बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं, 112 एमेरजन्सी, कार्यस्थल पर महिलाओं के साथ लैंगिक उत्पीड़न अधिनियम 2013 आदि योजना/कार्यक्रम महिलाए/बालिकाओं के लिए लाभप्रद की भी जानकारी दी। कार्यक्रम विभिन्न विद्यालयों व संस्थाओं के बालिकाआंें द्वारा महिला सशक्तिकरण पर लघु नाटिका व सास्कृतिक कार्यक्रमों की आकर्षक प्रस्तुति की गई। अपर पुलिस महानिदेशक उ0प्र0 पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड रेणुका मिश्रा, जिलाधिकारी नेहा शर्मा व पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह ने विभिन्न विद्यालयों व संस्थाओं की बालिकाओं को प्रशस्त्रि पत्र व प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस मौके पर बालिकाओं द्वारा बनाई गई रंगोली व स्काउट के बच्चों की भी प्रशंसा की। कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी राकेश कुमार, एडीएम एफआर डा0 राजेश कुमार प्रजापति व उनकी पत्नी रिद्म आकदमी की प्रमुख डा0 श्रेया, अपर पुलिस अधीक्षक शशी शेखर सिंह, सीओं गोपी नाथ सोनी, एडी सूचना प्रमोद कुमार सहित बड़ी संख्या में विभिन्न विद्यालयों के बालिकाए व प्रधानाचार्य सहित बड़ी संख्या में पुलिस कर्मी जिसमें महिलाए अधिकाश उपस्थित थी।