ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
लैस्बियन या होमोसैक्सुअल
June 27, 2019 • एन.एस. मेहता

1. शुक्र मंगल से युत हो या दृष्ट हो। या शुक्र मंगल की राशि या नवंाश मे हो तो स्त्री या पुरूष मुख मैथुन व अप्राकृतिक सैक्स करे।
2. शुक्र शनि से युत हो या दृष्ट हो। या शुक्र शनि की राशि या नवंाश मे हो तो स्त्री या पुरूष मुख मैथुन व अप्राकृतिक सैक्स करे।
1. शुक्र सूर्य से 7.30 अंश दूर दग्धावस्था मे हो। जो जातक या जातिका ठंडी हो। शुक्र सूर्य से 7.30 अंश दूर दग्धावस्था मे हो। जो जातक या जातिका ठंडी हो व अप्राकृतिक सैक्स करे।
3. 8 मे भाव में शुक्र, बुध और सूर्य की युति हो तो जातिका ठंडी हो व अप्राकृतिक सैक्स करे।
4. लग्न या सप्तम भाव पर शनि व बुध दोनों की युति व दृष्टि या एक ग्रह की युति व दूसरे ग्रह की दृष्टि नपुंसकता देती है और जातक या जातिका अप्राकृतिक सैक्स कराये।
5. यदि लग्न या चन्द्रमा शुक्र की राशि मे हो तथा मंगल के नवंाश मे हो तो जातक अप्राकृतिक सैक्स करे।
6. यदि लग्न या चन्द्रमा बुध की राशि में हो तथा शनि के त्रिशंाश में हो तो जातक नपुंसक हो और जातक या जातिका अप्राकृतिक सैक्स कराये।
7. यदि लग्न या चन्द्रमा शनि की राशि मे हो तथा बुध के त्रिशंाश मे हो तो जातक नपुंसक हो और जातक या जातिका अप्राकृतिक सैक्स कराये।
8. शुक्र की राशि मे शनि हो तथा शुक्र शनि के नवांश मे हो तो जातक सैक्सी हो और अप्राकृतिक मैथुन करे। नवांश मे शुक्र व शनि मे राशि परिवर्तन हो तो जातक अप्राकृतिक मैथुन करे।
9. नवम भाव मे नीच का शु़क्र राहू से युत हो तो जातक अप्राकृतिक मैथुन करे।
10 नवंाश मे सप्तम भाव मे मंगल, बुध व शुक्र हो तो जातक होमो हो।
11 अष्ठमेश चतुर्थ मे शुक्र से युत हो या लग्नेश जमांक मे या नवांश मे नीच का हो तो जातक अप्राकृतिक मैथुन करे।
12. प्लूटो की मंगल या शु़क्र पर दृष्टि हो तो जातक अप्राकृतिक मैथुन करे। सप्तमेश षष्ठेश की युति मे हो या शुक्र-चन्द्र या चन्द्र-शनि की युति हो। सप्तमेश नीच का बुघ या शनि युुत हो।
सप्तम मे बुघ शनि हो या सप्तमेश छठे भाव मे शुक्र ये युत होतो जातक अप्राकृतिक मैथुन करे।
13. वृष या तुला लग्न हो और तथा कुंभ नवांश होे तो जातक होमो हो।
14. मेश राषि मे वक्री षुक्र जातक को होमोसैक्सुअल बनाये।
होमोसैक्सुअल के जमंाक
1. आॅस्कर वाइल्ड- वृष लग्न मे सूर्य, शनि, बुध, मिथुन मे शुक्र, केतु, कर्क मे मंगल, धनु मे राहू व चन्द्र, मेष मे गुरू। लग्न व चन्द्र लग्न मे द्वादेश मंगल नीच का शनि दृष्ट।
2. सिकंदर महान- मेष लग्न मे सूर्य वृष मे शुक्र, तृतीय मिथुन का मंगल, कर्क मे बुघ, पंचम मे शनि व केतु, सप्तम मे तुला मे चन्द्र व गुरू तथा कुंभ मे राहू।
3. विलियम रूथ जड- तुला लग्न मे मंगल, वृश्चिक मे नीच का चन्द्र, धनु मे बुध मकर मे शुक्र शनि मे कुंभ मंगल केतु, मेष मे गुरू, सिंह मे राहू।
लैस्बियन के जमांक
1. मिथुन लग्न मे राहू, शनि व मंगल, तुला मे गुरू, धनु मे चन्द्र व केतु, मकर मे सूर्य, शुक्र व बुघ।
2. वृश्चिक लग्न मे सूर्य, बुघ व चन्द्र, धनु मे गुरू व राहू वृष मे वक्री शनि, मिथुन मे केतु, तुला, मंगल व शुक्र मे।
3. मशहूर टेनिस खिलाड़ी मार्टिन नवरातिलोवा- कन्या लग्न मे चन्द्र, नेप्चून, मंगल, धनु मे सूर्य, मकर में गुरू, बुध व शु़़क्र, मकर मे मंगल। 10 जनवरी 1950। जंम समय-22: 30 रात्रि स्थान-29 प., 45 उ. 35।