ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
समस्याओ को मौके पर ही निस्तारण करे
July 17, 2019 • समाचार

                                 जिलाधिकारी, रायबरेली नेहा शर्मा ने कहा है कि बरसात का मौसम है अधिशाषी अभियन्ता विद्युत की व्यवस्था को दुरूस्त रखें जहां कही भी ट्रान्सफार्मर खराब हो तो उन्हें तत्काल बदले या ठीक करें। इसके अलावा डीले तार हो तो उन्हें कसवालें पुराने व जर्जर तारों को बदलवालें। जनपदवासी अनावश्यक रूप से तालाब, नदी नाले में नजदीक से ही स्नान करें। जहां घाट या नहाने की उचित व्यवस्था हो तो किसी की देख-रेख में स्नान करें। उन्होंने पुलिस अधीक्षक एडीएम, एएसपी सहित सभी उप जिलाधिकारियों व क्षेत्राधिकारियों को निर्देश दिये है कि सावन का माह शूरू हो गया है। प्रदेश की सरकार श्रावण महीने में आयोजित होने वाली कावड़ यात्रा को सुरक्षित एवं सौहादपूर्ण वातावरण में सम्पन्न कराने के साथ ही जनपद में कानून एवं शांति व्यवस्था को पूरी तरह से दुरस्त रखने के साथ ही कानून का राज स्थापित करने के निर्देश दिये हैं। इसके अलावा जनता की समस्याओं का निस्तारण गुणवत्ता पूर्वक व संवेदनशील तरीके से निष्पक्ष व पारदर्शीय तरीके से समयबद्ध तरीके से कराने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने जनपद में कानून एवं शांति व्यवस्था को दुरस्त रखने के लिए सभी एसडीएम व क्षेत्राधिकारियों को निरंतर संयुक्तरूप से भ्रमण करने के निर्देश दिये है। कावड़ यात्रा को सुरक्षित एवं सौहार्द पूर्ण वातावरण में सम्पन्न कराने के सरकार के निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन कर कावड़ यात्रा को सकुशल सुरक्षित और शांतिपूर्ण तरीके से सौहार्दपूर्ण वातावरण में सम्पन्न कराने के समुचित तैयारी पूर्ण व दुरूस्त रखें।
डीएम नेहा शर्मा ने छोटी-छोटी समस्याओ को भी गम्भीरता से लंे, तथा समस्याओ को मौके पर ही निस्तारण करे। किसी भी प्रकार की अफवाह न फैलने दें। उन्होंने समस्त मीडिया के लोगों से कहा है कि किसी भी प्रकार की अफवाह या घटना की सूचना को अधिकारियों से सत्यापित कर लें। इसके अलावा सोशल मीडिया पर भी नजर रखने के निर्देश दिए हैं। कोई भी समस्या बिना देखे व बिना निस्तारण के न छूटने पाए। त्योहार रजिस्टर पूरी तरह से दुरूस्त रखें तथा उनका अवलोकन संयुक्त रूप से कर लें। कांवड यात्रा के पर्व को देखते हुए संयुक्त रूप से क्षेत्रो में भ्रमणकर जनपद में कानून व शान्ति व्यवस्था को पूरी तरह से चाकचैबन्द रखें तथा पर्वं को सकुशल व शान्तिमय तरीके से सम्पन्न कराने की सभी तैयारिया दुरूस्त रखें।
जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने कहा कि विभिन्नता में एकता ही हमारी विश्वव्यापी पहचान है। गरीबो व असहायो की मदद करना ही इन्सानियत है। इसके लिए सभी को आगे आना चाहिए। किसी भी नई परम्परा की शुरूआत न हो। सभी एसडीएम व अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका/नगर पंचायत, अधिशाषी अधिकारी विद्युत यह सुनिश्चित कर लें कि साफ सफाई, पानी, बिजली आदि की व्यवस्था दुरूस्त रहे, कही कोई कमी हो तो उसको तत्काल ध्यान देकर ठीक करा ले। सड़क पर कही गड्ढे आदि हो तो उसको ठीक करा दे। डीएम ने कहा कि कांवरयात्रियों को यात्रा को हाइवे होने के चलते दुर्घटना की सम्भावनाएं अधिक रहती हैं इसके लिए पुलिस के गश्त कर रही गाडियाँ, चेतक मोबाइल, सभी इमरजेन्सी डायल सेवा के साथ ही एम्बुलेन्स आदि को भी सक्रिय रखें। भक्तों को शिवजी के जलाभिषेक में किसी भी प्रकार का व्यवधान का सामना न करना पड़े इसका विशेष ध्यान रहे। पानी आदि की व्यवस्था दुरस्त रहे। जिन कावड़ यात्रा को डीजे व ध्वनि चीजों से जुडी चीजों का उपयोग करना हो तो इसके लिए अनुमति लेनी होगी। बिना अनुमति के ध्वनिविस्तारक यंत्रों का प्रयोग पर कोई रोक नही है बल्कि उसको हल्की/निर्धारित डिसीबल में ही बजाना होगा साथ ही इसकी सूचना प्रशासन को देने होगी। डीजे पर सिर्फ धार्मिक भजन, गीत आदि चलेंगे। पुलिस अधीक्षक थानास्तर पर कावड़ मार्गो पर पड़ने वाले समितियों की शांति गोष्ठी का आयोजन कराले तथा यात्रा में क्या करना है क्या न करे अवश्य बता दे। इसके अलावा बारिश के मौसम के कारण कही कोई जलभराव हो तो उसे ठीक कराले। इसके अलावा नदियों, तलाबों आदि पर नजर रखी जाये। डीएम ने यह भी निर्देश दिये है कि आईजीआरएस, मुख्यमंत्री संदर्भ, राजस्व परिषद आदि विभिन्न आयोग के प्राप्त प्रकरणों व संदर्भो को गुणवत्ता पूर्ण व समयबद्ध तरीके से निस्तारण कराया जाना सुनिश्चित करें।