ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
छेड़खानी के विरोध पर दलित बस्ती पर हुए हमले का वीडियो वायरल
June 12, 2020 • पवन उपाध्याय, वरिष्ठ पत्रकार • News

जनपद आजमगढ़ के महारागंज थाना क्षेत्र के सिकंदरपुर आईमा में छेड़खानी के विरोध पर दलित बस्ती पर हुए हमले का वीडियो वायरल पर सीएम योगी आदित्यनाथ की सख्ती के बाद जिले के पुलिस अधीक्षक ने एसओ महाराजगंज को निलबिंत कर दिया गया है। 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए चार टीमें गठित की गई हैं। फरार आरोपियों पर 25 हजार का इनाम घोषित किया गया है। जिले के पुलिस अधीक्षक द्वारा तमाम कार्रवाईयों की जहां पोल खोल दी, वही इस बड़ी घटना को लेकर ट्वीट के माध्यम से संज्ञान में आने पर मुख्यमंत्री ने जिले के कप्तान को लापरवाही के चलते कड़ी फटकार लगाई।
जनपद आजमगढ़ जिले के महाराजगंज थाना क्षेत्र के सिकंदरपुर आयमा गांव में ट्यूबेल पर पानी लेने जा रही दलित बालिकाओं से छेड़खानी का विरोध करने पर समुदाय विशेष के लोगों ने इकट्ठा होकर अनुसूचित बस्ती पर धावा बोल दिया था। महिलाओं और बच्चों को भी लाठी-डंडे और धारदार हथियार से जमकर पीटा गया। लगभग एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गये, जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया। गांव में पुलिस के साथ पीएसी भी तैनात की गई। पुलिस कार्रवाई में 9 नामजद और 10 अज्ञात पर एफआईआर की गई। इस बड़ी घटना को लेकर एसपी त्रिवेणी सिंह ने एसओ महाराजगंज अरविंद पांडेय को निलंबित कर दिया है। मामले में 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए चार टीमें गठित की गई है। एसपी त्रिवेणी सिंह ने बताया कि फरार आरोपियों पर 25-25 हजार का इनाम भी घोषित किया गया है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि घटना काफी गंभीर है इसलिए आरोपियों पर गैंगेस्टर और एन.एस.ए. की कार्रवाई भी की जाएगी। मामला ट्वीट के माध्यम से पहुंचा सीएम योगी आदित्यनाथ ने मामले में कड़ी नाराजगी जताई है। सांप्रदायिक घटना को देखते हुए जिले के महाराजगंज थानाध्यक्ष को निलंबित करने के निर्देश दिए थे। साथ ही आरोपियों पर रासुका लगाने को कहा।