ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
एक सत्य ज्योतिषीय घटना
January 14, 2020 • संस्मरण-श्री लाल बहादुर उपाध्याय, एम.ए. (ज्योतिष)

मैं 1976-77 फरूखाबाद मे जज था तभी एक सत्य ज्योतिषीय घटना मेरी सामने घटी फरूखाबाद रेलवे यार्ड के पास एक सज्जन अपने बीबी-बच्चों के साथ रहते थे उनकी संतानों मे एक नौ साल का लड़का था, जब वह लड़का पैदा हुआ तो फरूखाबाद के जाने-माने ज्योतिषी व कर्मकाण्डी ब्राह्मण ने बालक की कुण्डली बनाई और कुण्डली देखकर कहा कि अरे इस बालक की आयु तो केवल नौ वर्ष है, नौ वर्ष के बाद यह रेल से कटकर मर जायेगा जब बालक आठ वर्ष का हुआ तो बालक के पिता ने बालक को घर के एक कमरे मे लगभग बंद कर दिया जिस दिन बालक की मौत का दिन आया उस दिन ना जाने कैसे कमरे का दरवाजा खुला रह गया बच्चा पटरियों पर चला गया पटरी पर कोई ट्रेन नही आ रही थी पटरियों को चेक करने वाली ट्राली द्वारा पटरियों की जाँच हो रही थी लड़का अचानक ट्राली के ठीक सामने आ गया ट्राली कर्मचारियों ने बहुत शोर मचाया जब तक वह ब्रेक लगाते लड़का ट्राली के नीचे आ गया घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई।