ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
घर पर ही रहिए प्रभु!
April 23, 2020 • रामकुमार वैष्णो उ.प्र. ब्यूरो • News


19 फरवरी टोटल केस: 3
19 मार्च टोटल केस: 198
19 अप्रैल टोटल केस:  17 हजार से भी अधिक ,
और आप हम सोच रहे हैं कि तीन मई के बाद सब कुछ पहले जैसें सामान्य हो जाएगा! घर पर ही रहिए प्रभु!
भारत की जनसंख्या लगभग = 135 करोड़
यदि प्रतिदिन 1 लाख व्यक्तियों की कोविड-19 संक्रमण की जाँच की जाए तो 13500 दिन या लगभग 37 साल लगेंगे लगभग 135 करोड़ लोगों की जांच करने में और इतने समय मे भारत पूरी तरह कोरोना से खत्म हो चुकेगा। अब यदि हम इस टेस्टिंग को 10 लाख व्यक्ति प्रतिदिन भी कर दें तो भी 1350 दिन अर्थात लगभग पौने 4 साल लग जाएंगे लगभग 135 करोड़ लोगों की टेस्टिंग करने में और इतना समय भी पर्याप्त है देश को खत्म होने में। छोटी सी बात समझ नही आ रही तो अमेरिका को देख लो । लॉकडाउन को अंडर एस्टीमेट करके ,टेस्टिंग पर जोर देने का नतीजा 30 लाख से ज्यादा टेस्टिंग करने के बाद भी 40 000 नागरिकों की मौत हो चुकी है और लगभग 7 लाख लोग कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। इसमें लॉकडाउन के साथ ट्रेसिंग ,टेस्टिंग दोनों शामिल है। बिना लॉकडाउन किये ,इतनी बड़ी आबादी को कोरोना से बचना असंभव है। इसलिए सरकार के सभी निर्देशो का पालन करे और ज्यादा से ज्यादा अपने ’घर मे रह कर देश की सेवा करने की कोशिश करें।