ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
झांसी जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने किया औचक निरीक्षण
August 4, 2020 • पंकज भारती, ब्यूरो चीफ झांसी • News

झांसी जिले की तहसील मऊरानीपुर में कोरोना पॉजिटिव के बढ़ते केसो को लेकर जिलाधिकारी, आन्द्रा वामसी एवं एसएससी, दिनेश कुमार पी के साथ कोतवाली एवं सीएससी मऊरानीपुर का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी आन्द्रा वामसी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद दिनेश कुमार पी0 द्वारा थाना मऊरानीपुर के औचक निरीक्षण पर उपजिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी मऊरानीपुर एवं पुलिस विभाग के अन्य अधिकारियों के साथ आगामी श्रीराम जन्म भूमि पूजन के संबंध में सुरक्षा व्यवस्था संबंधी समीक्षा की गयी। इस दौरान थाना क्षेत्रांतर्गत आने वाले टॉप-10 अपराधियों, हिस्ट्रीसीटर आदि के बारे में जानकारी की गयी एवं संबंधित को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।
जिलाधिकारी ने बताया कि मऊरानीपुर के नगरवासियों द्वारा मास्क लगाने में लापरवाही बरती जा रही हैं और यहां सफाई व्यवस्था की स्थिति भी अच्छी नहीं है, जिससे मऊरानीपुर में संक्रमण बढ़ रहा है। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि मास्क न लगाने वालों पर 500 रूपये का जुर्माना वसूलने की कार्यवाही की जाएगी। 
जिलाधिकारी ने नगर पालिका परिषद को सख्त आदेश दिए गए कि सफाई व्यवस्था पर फोकस किया जाए ताकि कोरोना संक्रमण को रोका जा सके। सीएससी के निरीक्षण में भी जिलाधिकारी ने सफाई व्यवस्था पर भी नाराजगी व्यक्त की।
उन्होंने बताया कि मऊरानीपुर में कोविड-19  एल-1 आइसोलेशन सेंटर शीघ्र शुरू किया जाएगा, जिसके लिए स्टाफ की व्यवस्था की जा रही है। उक्त आइसोलेशन सेंटर शुरू होने से मऊरानीपुर के लोगों को झांसी जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। गंभीर बीमारी से ग्रस्त लोगों को ही झांसी मेडिकल कॉलेज में रिफर करके भर्ती किया जाएगा। मऊरानीपुर निरीक्षण के पूर्व जिलाधिकारी झाँसी आंद्रा वामसी  एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक झाँसी दिनेश कुमार पी0 द्वारा थाना टहरौली जनपद झाँसी के थाना कार्यालय, कम्प्यूटर कक्ष,हवालात एवं संपूर्ण थाना परिसर का निरीक्षण किया गया। 
निरीक्षण के दौरान उन्होने पत्रावलियों को अध्यावधिक करने, सफाई व्यवस्था सुदृढ़ करने एवं कोरोना वायरस से उत्पन्न वैश्विक महामारी  कोविड-19 से बचाव हेतु शासन द्वारा प्रदत्त समस्त दिशा-निर्देशों का शत् प्रतिशत पालन करने हेतु संबंधित को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। संतरी डियूटी पर उपस्थित कर्मचारी से संबंधित शस्त्र के बारे में जानकारी ली।