ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
जिला स्तरीय तहसील समाधान दिवस
November 19, 2019 • समाचार

तहसील सलोन में जिला स्तरीय तहसील समाधान दिवस की जिलाधिकारी, रायबरेली शुभ्रा सक्सेना द्वारा अध्यक्षता करते हुए निर्देश दिये कि तहसील समाधान, थाना दिवस, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना आदि कार्यक्रम प्रदेश सरकार की शीर्ष प्राथमिकताओं वाले कार्यक्रमों में से है जिनमें किसी भी प्रकार की शिथिलता किसी भी स्तर पर क्षम्य नही होगी। जिलाधिकारी ने एसडीएम सलोन व तहसीलदार को तहसील के संदर्भ शिकायत रजिस्टर में माह अक्टूबर के सम्पन्न हुए तहसील दिवस से सम्बन्धित कई प्रकरणों व शिकायत संदर्भो को देखा जिसमें कई शिकायतों निस्तारण पूर्ण रूप से निस्तारण न होने के बवाजूद भी शिकायतों को निस्तारित बताया गया। डीएम ने शिकायत रजिस्टर के दो प्रकरणों में फरियादियों से उनके लिखें हुए नम्बर पर बात की तो फारियादियों द्वारा बताया गया कि उनका प्रकरणों का निस्तारण नही किया गया है जिस पर डीएम ने गम्भीरता से लेते हुए एसडीएम सलोन व तहसीलदार का स्पष्टीकरण प्राप्त करने के साथ ही कार्यवाही करने के निर्देश दिये है। इसी प्रकार डीएम ने सलोन थाने का शिकायत रजिस्टर को देखा जिसमें ग्राम गोटिया की एक  महिला द्वारा शिकायत की गई थी कि उसके सरकारी नल के बगल में कड़ा लगाया गया है जिसको हटवाने की शिकायत की गई थी। जांच में विपक्ष द्वारा भी बताया कि शिकायतकर्ता द्वारा अवैध रूप से कब्जा कर सुअर आदि पाल रखे हैं दोनो पक्षों द्वारा तेय हुआ कि अवैध कब्जा/कुड़ा आदि हटवा दिया जायेगा। जांच करने पर पाया गया कि उसका निस्तारण नही किया गया है। जिसपर जिलाधिकारी ने एसएचओ सलोन को भविष्य में संचेत करते हुए कार्यवाही हेतु लिखा। इसी प्रकार विद्युत अधिकारी तथा कृषि अधिकारी आदि अधिकारियों को भी चेताया तथा निर्देश दिये कि शिकायतों के प्रकरणों का निस्तारण समयबद्ध व गुणवत्ता पूर्ण एवं मानक के अनुरूप निस्तारित किया जाये।
 जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने अधिकारियो/राजस्व से जुड़े कर्मियो आदि को निर्देश दिये कि विभिन्न क्षेत्रों जाकर देखे कि खेतों में कोई व्यक्ति पराली, कूड़ा, अवशेष आदि तो नही जला रहा है यदि कोई व्यक्ति पराली जलाता है तो तत्काल गिरफ्तार करे। सरकार के सख्त निर्देश है कि पराली जलाना पूर्णतः प्रतिबन्ध के साथ ही पराली जलाने वालों पर एफआईआर/जुमार्ना दण्ड आदि प्राविधान है उन्होंने कृषि अधिकारी को निर्देश दिये कि किसानों को जागरूक करे ताकि किसान अपनी आमदनी भी बढ़ा सके और पराली न जलाने के लिए भी जागरूक करें पराली जलाने से पर्यावरण प्रदूषित बढ रहा है। उन्होंने उपस्थित समस्त अधिकारियों को निर्देश दिये कि तहसील में सम्र्पूण समाधान दिवस पर कि आम जन की समस्याओं को अंदेखी न करें। सम्पूर्ण समाधान दिवस पर फरियादियों की समस्या को गम्भीरता व सवेदनशीलता के साथ सुने और आई हुई शिकायतों का निस्तारण संवेदनशीलता व गम्भीरता से लेकर समस्याओं का निराकरण समयबद्ध गुणवत्तायुक्त तरीके से करें। उन्होंने ने कहा कि यदि किसी प्रकरण में जांच आदि की जरूरत हो तो अवश्य करें। छोटी-छोटी समस्याओं, विवादों को भी गम्भीरता से लें। समस्याओं के निस्तारण में किसी भी प्रकार की शिथिलता न बरती जाये।
 जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने प्राथमिक विद्यालय ऐराडीह में रसोईया को बिना कारण निष्कासन पर बेसिक शिक्षा अधिकारी, सलोन के गैस सर्विस द्वारा गैस सिलेण्डर की होम डिलेवरी न करने महिलाओं को गैस लेने जाने पर काफी देर बैठाये रखा तथा उनको सिलेण्डर न दिया जाना तथा गैस की चोरी आदि शिकायत पर डीएसओ को निर्देश दिये कि प्रकरणों की जांच कर कड़ी कार्यवाही करें। नयागंज निवासी 80 वर्षीय एक व्यक्ति द्वारा फरियादी की गई कि उसका जलकर टैक्स आदि विक्लांग होने के कारण माफ किया गया था इस पर जांच कराई गई कि इस प्रकार का कोई आदेश नही है इसके साथ ही फरियादी द्वारा आयुष्मान गोल्डन कार्ड मागने पर एमओआईसी को निर्देश दिये कि इनकी पात्रता की जांच करले यदि पात्र हो तो उनका गोल्डन कार्ड बनाकर उपलब्ध कराया जाये। 
 सम्पूर्ण समाधान दिवस के मौके पर मुख्य विकास अधिकारी राकेश कुमार, एडीएम प्रशासन राम अभिलाष, अपर पुलिस अधीक्षक नित्यानन्द राय, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 शरद कुमार वर्मा, एसडीएम आशीष सिंह तहसीलदार राम कुमार शुक्ला, एसओसी एसके त्रिपाठी, एडी सूचना प्रमोद कुमार, परियोजना निदेशक प्रेमचन्द्र पटेल, डीसी मनरेगा पवन कुमार, डीपीओ, डीएसओ, बीएसए, डीआईओएस, सीवीओ, युवा कल्याण अधिकारी आदि जिलास्तरीय अधिकारीगण उपस्थित थे।