ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
जिलाधिकारी ने धर्मगुरूओं से अपील किया
March 19, 2020 • पवन उपाध्याय • News

जिलाधिकारी आजमगढ़ नागेन्द्र प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में नोवल कोरोना वायरस के नियंत्रण हेतु धर्म गुरूओं, होटल-रेस्टोरेंट, धर्मशाला, सराय, ढ़ाबा, कैंटिन, फुड कोट, हलवाई, व्यापार मण्डल व ड्रग एसोसिएशन के प्रतिनिधियों के साथ बैठक सम्पन्न हुई। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा, कोरोना वायरस हवा में नही फैलता है, बल्कि सरफेस से सरफेस पर फैलता है। हाथों को सेनेटाइजर के स्थान पर साबुन से भी हाथ को साफ कर सकते हैं। उन्होने आम जनता से अपील किया है कि कोरोना वायरस से घबराने की जरूरत नही है, बस सावधानी रखें। हाथों से मुंह, नाक, कान को बार-बार न छुएं और खान-पान में सावधानी रखें, योग प्राणायाम करते रहें।  जिलाधिकारी ने धर्मगुरूओं से अपील किया है कि अनुयायिओं को बतायें कि अनावश्यक मस्जिदों, मंदिरों में भीड़ न लगायें, घर पर ही बैठकर पूजा-पाठ करें। हमारी संस्कृति में स्वच्छता की भूमिका पहले से ही रही है। 
जिलाधिकारी ने एसडीएम सदर व डीएलसी को निर्देश दिये कि भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जो स्थित दुकानें हैं, उनमें से कुछ दिन एक तरफ की दुकाने खोलने हेतु व कुछ दिन दूसरी तरफ की दुकानों को खोलने के लिए चिन्हित कर सूची उपलब्ध करायें। उन्होने दुकानदारों से अपील किया है कि दुकानों पर भीड़ न हो, इसके लिए ऐसी व्यवस्था करें कि जिससे ग्राहकों को सामान लेने में असुविधा भी न हो और दुकानों पर भीड़ भी न लगे। उन्होने कहा कि प्रत्येक रेस्टोरेंट-होटल अपने यहाॅ आने वाले सभी उपभोक्ताओं को हैण्डवाश की सुविधा उपलब्ध करायेंगे एवं सही ढ़ंग से हैण्डवाश करने हेतु प्रेरित भी करेंगे। रेस्टोरेंट में खाद्य परिचालन में संलग्न समस्त कार्मिक हेड गियर हैण्ड ग्लब्स एवं एप्रिन का उपयोग करेंगे, साथ ही साथ व्यक्तिगत स्वच्छता का भी ध्यान रखेंगे। खाद्य परिचालन में संलग्न कार्मिक मेडिकल ग्रेड एल्कोहल सेनेटाइजर का प्रयोग करंेगे। रेस्टोरेंट के फर्श, दीवार, सीढ़ियों, रेलिंग, कमरों की खिड़की, दरवाजों, टेबल कुर्सी एवं भोजन हेतु प्रयोग किये जाने वाले पात्रों आदि को नियमित रूप से निसंस्क्रमित किये जायें। शाकाहारी एवं मांसाहारी खाद्य पदार्थों का रख-रखाव अलग-अलग सुनिश्चित किया जाय। किचेन एवं पूरे परिसर में बंद कूड़ेदान का प्रयोग हो। खाने का मीनू बार-बार उपभोक्ताओं के हाथों से गुजरता है, अतः इसे प्लास्टिक कोटेड कराकर लगातार निसंस्क्रमित किया जाय। किचेन से निकलने वाले निष्प्रयोज्य को निसंस्क्रमित कर निष्पादित किया जाय। खाद्य कारोबार में संलग्न कार्मिकों की पहचान हर हाल में सुनिश्चित कर ली जाय। किसी के विदेशी मूल पाये जाने पर तत्काल सूचना उपलब्ध करायी जाय तथा कोरोना से संबंधित किसी प्रकार की अफवाह न फैलाई जाय और न ही इससे आतंकित होने की जरूरत है। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र सिंह, सीएमओ डाॅ0 एके मिश्रा एसडीएम सदर रावेन्द्र सिंह, डीएलसी रोशन लाल, खाद्य सुरक्षा अधिकारी सहित समस्त संबंधित उपस्थित रहे।