ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
कमल हासन तमिलनाडु के विकास के लिए रजनीकांत एक साथ आ सकते हैं
November 19, 2019 • समाचार

फिल्म अभिनेता कमल हासन ने कहा है, तमिलनाडु के विकास के लिए उनकी पार्टी मक्कल निधि मय्यम और सुपरस्टार रजनीकांत एक साथ आ सकते हैं। कमल हासन ने संवाददाताओं से बातचीत में ये बातें कही। उन्होंने कहा-हमारी दोस्ती पिछले 44 सालों से चली आ रही है और तमिलनाडु राज्य की बेहतरी के लिए जरूरत पड़ी तो हम दोनों साथ आ सकते हैं। वहीं कमल हासन के इस बयान की प्रतिक्रिया में रजनीकांत ने भी अपनी सहमति जताई है। उन्होंने कहा कि कमल हासन ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी तो तमिलनाडु की भलाई के लिए हमलोग साथ आ सकते हैं।
कमल हासन ने रजनीकांत की उन टिप्पणियों का समर्थन किया, जिसमें तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी के शीर्ष पद पर आने पर हैरानी जताई गई। हासन ने कहा कि यह ''आलोचना नहीं है बल्कि सच्चाई है।'' हासन ने यह भी कहा कि वह तमिलनाडु की भलाई के लिए रजनीकांत के साथ हाथ मिला सकते हैं रजनीकांत ने भी ऐसे ही विचार रखे। रजनीकांत ने कहा, ''अगर ऐसी स्थिति उत्पन्न होती है जहां मुझे और कमल को तमिलनाडु के लोगों की भलाई के लिए हाथ मिलाना पड़ेगा तो हम निश्चित तौर पर साथ आएंगे।'' साल 2021 में राज्य विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने की घोषणा करने वाले रजनीकांत पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। मुख्यमंत्री के.पलानीस्वामी पर रजनीकांत की टिप्पणियों का समर्थन करते हुए हासन ने कहा कि वह तमिलनाडु की भलाई के लिए रजनीकांत के साथ चलेंगे। बहरहाल, हासन ने दोनों के राजनीतिक रूप से साथ आने के संकेत नहीं दिए। 
रजनीकांत ने कहा था कि पलानीस्वामी ने मुख्यमंत्री बनने के बारे में ''सपने में भी नहीं सोचा होगा'' और उन्होंने अन्नाद्रमुक के नेता के मुख्यमंत्री बनने पर ''आश्चर्य जताया और इसे चमत्कार'' बताया। उनके इस बयान पर सत्तारूढ़ पार्टी ने तीखी प्रतिक्रिया जतायी है। ये टिप्पणियां यहां उस कार्यक्रम में की गई जो सिनेमा इंडस्ट्री में हासन के 60 साल पूरे होने के उपलक्ष में आयोजित किया गया था। हासन ने रजनीकांत के बयान के बारे में पूछे जाने पर पत्रकारों से कहा, ''यह आलोचना नहीं है बल्कि सच्चाई है।'' सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक ने इस पर तीखी प्रतिक्रिया देते हएु कहा कि पलानीस्वामी तुक्के से मुख्यमंत्री नहीं बने हैं बल्कि अपनी कड़ी मेहनत से यहां तक पहुंचे हैं। मक्कल निधि मय्यम (एमएनएम) संस्थापक हासन ने रजनीकांत के बारे में कहा, ''हमारे लिए हाथ मिलाने जैसा कुछ नया नहीं है क्योंकि हम पिछले 44 वर्षों से एक रहे हैं।