ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
कोरोना सम्बन्धी समस्याओं का युद्ध स्तर पर निराकरण करे
May 27, 2020 • रायबरेली। • News

जिलाधिकारी, रायबरेली शुभ्रा सक्सेना ने बचत भवन में आयोजित सेक्टर मजिस्ट्रेट/सेक्टर अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए निर्देश दिए कि सेक्टर अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमण कर निगरानी कमेटी के सदस्यों से बेहतर सामंजस्य बनाकर कोरोना वायरस संबंधी समस्याओं का निराकरण नियमानुसार करें। जागरूकता के माध्यम से आमजन को कोविड-19 के बारे में जागरूक करें तथा लोगों को आरोग्य सेतु व आयुष कवच ऐप को डाउनलोड कराये। आम जनमानस लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें तथा कोरोना वायरस चैन को तोड़ने में आगे आए। बैठक में तीन सेक्टर अधिकारियों की अनुपस्थिति पर जिलाधिकारी गंभीर दिखी तथा कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इसके अलावा एक सेक्टर मजिस्टेªट द्वारा पूछे गये सवाल का सही उत्तर के स्थान पर अनर्गल उत्तर तथा अपनी सेवा अच्छी न देने पर असमर्थता व बहानेबाजी जाहिर करने पर जिलाधिकारी ने कहा कि इनके खिलाफ अनिवार्य सेवानिवृत्ति व अन्य दण्डात्मक कार्यवाही के लिए शासन को पत्र लिखा जाये। उन्होंने कोरोना वायरस व जागरूकता वाले पंपलेट नियमानुसार छपवा कर वितरित भी करें। 
 जिलाधिकारी ने कहा कि सेक्टर मजिस्ट्रेट अधिकारियों के सहयोग के लिए ब्लाक स्तरीय अधिकारी भी लगे गये हैं। एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकत्री, आशा, प्रधान, निगरानी कमेटी में जागरूक रहें तथा कोई भी निगरानी कमेटी व अन्य सदस्य बिना मास्क क्षेत्रों में न दिखे। सेनीटाइजेशन का कार्य नियमानुसार होता रहे निगरानी कमेटी ठीक से कार्य कर रही है या अभी देखें यदि कहीं कोई सफाई कर्मी आंगनवाड़ी आशा, ग्राम पंचायत कर्मी द्वारा ठीक से कार्य नहीं कर रहे हैं तो इसकी जानकारी नोडल अधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल को दें रिपोर्ट/सूचना के आधार पर लापरवाही कर्मचारी के विरुद्ध कार्यवाही भी की जा सके ब्लाक के नोडल अधिकारी सेक्टर अधिकारी/सेक्टर मजिस्ट्रेट हैं अतः सेक्टर अधिकारी की जिम्मेदारी अहम है ग्रामों में गठित वीएचएस विलेज हेल्थ सेनीटाइजेशन सोसाइटी, अनटाइड फण्ड, स्वास्थ्य, स्वच्छता मदो से भी नियमानुसार मास्क आदि खरीद के लिए खर्च कर सकते हैं। निगरानी कमेटी पोस्टर पंपलेट आदि भी छपवा सकते हैं मास्क आदि की कमी ना हो स्टाफ मास्क के साथ रहे इसकी खरीदारी नियमानुसार वीएचएस से खरीद सकते हैं। कोई भी निगरानी कमेटी का सदस्य बिना मास्क के दिखने पर इसकी जिम्मेदारी एमओआईसी होगी। निगरानी कमेटी यह देखें कि होमक्वारंटाइन के जो भी स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के तहत व्यवस्था हो उसे पालन करें मास्क आदि न लगाये तो उन्हें लगाने को कहा जाये या लोग मनमानी कर रहे हैं कार्यवाही करें। घर में पर्याप्त स्वास्थ्य सेवा नहीं है तो प्रवासी को आश्रय क्वारंटाइन में लाये। लाॅकडाउन का पालन हो क्षेत्रवासी अनावश्यक न घूमे। प्रवासी को राशन किट अवश्य उपलब्ध कराई जाये। कार्यों में ढिलाई न बरतें समस्या कोई हो तो निराकरण अवश्य कराये।
 बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल, अपर जिलाधिकारी प्रशासन राम अभिलाष, डीपीआरओ, एडी सूचना प्रमोद कुमार, सहित बड़ी संख्या में अधिकारीगण उपस्थित थे।