ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
क्षति का आकलन रिपोर्ट उपलब्ध करायें
March 15, 2020 • पवन उपाध्याय • News

आजमगढ। विगत दो दिनों मे आजमगढ के विकास खण्ड फूलपुर, मार्टिनगंज, ठेकमा, लालगंज, पल्हना, तरवां, जहानागंज, कोयलसा, मिर्जापुर, तहबरपुर व पल्हनी क्षेत्र मे ओलावृष्टि-चक्रवात से किसानो के फसलों की क्षति हुई, इसके लिए जिलाधिकारी, आजमगढ नागेंद्र प्रसाद सिंह द्वारा सम्बंधित क्षेत्रों के एसडीएम/तहसीलदार को निर्देश दिये की किसानो के फसलों की हुई क्षति का आकलन रिपोर्ट उपलब्ध करायें।
उक्त के क्रम में जिलाधिकारी नागेंद्र प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में देर रात्रि कैम्प कार्यालय में किसानों के फसलों की क्षति के आकलन रिपोर्ट के संबंध में बैठक संपन्न हुई।
इस अवसर पर कृषि विभाग द्वारा भी विभिन्न विकास खंडों के ग्रामों में किसानों की फसल क्षति के संबंध में रिपोर्ट उपलब्ध कराई गई। समीक्षा के दौरान पाया गया कि कृषि विभाग व राजस्व विभाग की आकलन रिपोर्ट में विभिन्नता है। जिस पर जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी वि0-रा0 को निर्देश दिए कि कृषि विभाग द्वारा प्राप्त आकलन रिपोर्ट को समस्त संबंधित एसडीएम व तहसीलदार को उपलब्ध कराएं। उन्होने यह भी निर्देश दिये कि कृषि विभाग व राजस्व विभाग के अधिकारियों की संयुक्त टीम बनायें और जाॅच कराकर वास्तविक रिपोर्ट उपलब्ध करायें।
इसी के साथ ही सदर, सगड़ी, निजामाबाद, बुढ़नपुर से संबंधित एसडीएम/तहसीलदार को निर्देश दिए कि उक्त क्षेत्रों का निरीक्षण करें और कहीं किसी किसान के फसल की क्षति हुई है तो उसका आकलन करते हुए अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 को रिपोर्ट उपलब्ध कराएं।
तहसीलदार फूलपुर द्वारा किसानों के फसलों की क्षति से संबंधित उपलब्ध कराई गई रिपोर्ट संतोषजनक न पाए जाने पर जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 को निर्देश दिए कि तहसीलदार फूलपुर की उपलब्ध कराई गई रिपोर्ट की वास्तविक जांच कर रिपोर्ट उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने एसडीएम/तहसीलदार को निर्देश दिए कि किसानों के फसलों की क्षति का आकलन करते हुए डिजिटल डॉक्यूमेंटेशन हेतु फसलों का फोटोग्राफ्स भी लें। उन्होंने कहा कि कोई लेखपाल फसलों को क्षति के संबंध में रिपोर्ट देता है और यदि गलत रिपोर्ट पाई गई तो कड़ी कार्यवाही की जाएगी।
इसी के साथ जिलाधिकारी ने राजस्व विभाग, कृषि विभाग व न्यू इंडिया इंश्योरेंस कंपनी (बीमा कंपनी) के संयुक्त टीम को निर्देश दिए कि विभिन्न विकास खंडों से संबंधित ग्रामों में विभिन्न किसानों के फसलों की क्षति का आकलन कर जल्द से जल्द रिपोर्ट उपलब्ध कराएं और किसानों को फसल क्षतिपूर्ति का लाभ दिलाएं।
इस अवसर पर सीआरओ हरी शंकर, अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र सिंह, अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 गुरू प्रसाद, डीडी कृषि डाॅ0 आरके मौर्य, समस्त एसडीएम/तहसीलदार, जिला कृषि अधिकारी डाॅ0 उमेश कुमार गुप्ता, न्यू इंडिया इंश्योरेंस कंपनी के प्रशासनिक अधिकारी नरसिंह यादव उपस्थित रहे।