ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
पांच दिवसीय विराट किसान मेला का समापन
November 14, 2019 • समाचार

पारम्परिक कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर डलमऊ गंगाघाट रोड, रायबरेली पर पांच दिवसीय विराट किसान मेला का समापन जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश सिंह एवं विधायक राम नरेश रावत द्वारा किया गया। जिला पंचायत अध्यक्ष ने अपने सम्बोधन में कहा कि किसानों की आय में वृद्धि तभी हो सकती है जब किसान तकनीकी जानकारी प्राप्त करके अपने कृषि कार्यो को करेगा। धान एवं गेहूँ के अलावा पशुपालन, मछली पालन, बकरी पालन, मुर्गी पालन इत्यादि कार्यो को भी धान गेहूँ के साथ करने से ही आय में बढ़ोत्तरी होगी, तथा कृषि पर निर्भरता होने से कुछ समय तक का ही किसानों के पास काम रहता है, इन विधियों को अपनाने से हमेशा उनके पास काम रहेगा तथा उनकी आमदनी का स्रोत हमेशा बना रहेगा। विधायक राम नरेश रावत ने किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि कृषि मेले में विभिन्न जानकारी प्राप्त कर तथा कृषि विशेषज्ञों द्वारा दी गई जानकारी को अपनाकर अपने उत्पादन एवं आय में बढ़ोत्तरी करें। किसान मेला मे फार्म मशीनरी बैंक योजनान्तर्गत मीरा सिंह, राजेन्द्र कुमार को 12-12 लाख रू0 के कृषि यंत्रों का विवरण किया गया तथा कस्टम हायरिंग योजनान्तर्गत रवी सिंह, रूद्र शंकर तिवारी को 6.50-6.50 लाख रू0 के कृषि यंत्रों का वितरण किया गया। इसके साथ ही विभिन्न दिवसों में 45 किसानों द्वारा अनुदान पर बखारी, 39 कृषकों द्वारा सिंचाई हेतु लपेटा पाइप एवं 31 किसानों द्वारा नैपसेक कृषि यंत्र अनुदान पर क्रय किया गया। प्रधानमंत्री किसान ने अपनी समस्याओं को समाधान कराया। महराष्ट्र से आई संस्था द्वारा गौ पालन के महत्व पर प्रकाश डाला गया एवं गौ की उपयोगिता के बारे में जानकारी दी गई। औरैया जनपद की संस्था द्वारा वर्मी कम्पोष्ट के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। महात्मने एफ0ओ0 के अध्यक्ष द्वारा अपने कम्पनी के उत्पादों के बारे में किसानों को विस्तृत जानकारी दी गई। उप कृषि निदेशक एच0एन0 सिंह द्वारा विभागीय योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। कृषि विभाग के भूमि संरक्षण अधिकारी विनय सिंह, जिला कृषि अधिकारी रविचन्द्र प्रकाश, उप सम्भागीय कृषि प्रसार अधिकारी, अभयराज गुप्ता, एस0एम0एस0, अजेन्द्र सिंह, दिनेश पाल, डाॅ0 गोविन्द्र सिंह, टी0ए0 शिव चेतन, मो0 परवेज, हशमत अली मान सिंह पटेल, आशुलिपिक सहित काफी अधिक संख्या में कृषकों द्वारा उक्त विराट मेला में प्रतिभाग किया गया। जादूगर द्वारा सरकार की उपलब्धियों का प्रचार-प्रसार भी किया गया साथ ही स्टालों पर भ लोगों द्वारा कृषिकों जानकारी मिली।