ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण
January 13, 2020 • समाचार • News

राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत 989 ग्राम पंचायतों के प्रत्येक ग्राम पंचायतों में एक वैक्सीनेटर जो टीकाकरण का कार्य सम्पादित करेगें एवं एक सहायक जो कि समस्त छोटे बड़े पशुओं में ईयर टैगिंग का कार्य करेंगे जिनका चयन लगभग 1000 पशुओं के आधार पर किया जाना है। ग्रामसभा की खुली बैठक आहूत कर ग्राम प्रधानों के माध्यम से हाईस्कूल की योग्यता व 50 वर्ष उम्र से अधिक न हो के आधार पर पूर्व से विभागीय प्रशिक्षित क्रियाशील इच्छुक एवं समक्ष पैरावेट व पशुमित्रों को तथा प्रत्येक विकास खण्ड स्तर पर स्थापित फामर्स फिल्ड स्कूल से वैक्सीनेटरों-सहायकों के रूप में कार्य करने हेतु प्रेरक किसानों का व लीड फारमस (प्रेरक किसान) लिखित सहमति के आधार पर वरीयता दी जायेगी। यह जानकारी मुख्य पशु चिकित्साधिकारी रायबरेली डा. गजेन्द्र प्रताप सिंह ने देते हुए बताया कि विभागीय पशु चिकित्साधिकारी-पशुधन प्रसार अधिकारी की खुली बैठक में उपस्थिति सुनिश्चित हो। चयनोपरान्त राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत 989 ग्राम पंचायतों के प्रत्येक ग्राम पंचायतों में एक वैक्सीनेटर जो टीकाकरण का कार्य सम्पादित करेगें एवं एक सहायक जो कि समस्त छोटे बड़े पशुओं में ईयर टैगिंग का कार्य करेंगे जिनका चयन लगभग 1000 पशुओं के आधार पर किया जाना है। ग्रामसभा की खुली बैठक आहूत कर ग्राम प्रधानों के माध्यम से हाईस्कूल की योग्यता व 50 वर्ष उम्र से अधिक न हो के आधार पर पूर्व से विभागीय प्रशिक्षित क्रियाशील इच्छुक एवं समक्ष पैरावेट व पशुमित्रों को तथा प्रत्येक विकास खण्ड स्तर पर स्थापित फामर्स फिल्ड स्कूल से वैक्सीनेटरों-सहायकों के रूप में कार्य करने हेतु प्रेरक किसानों का व लीड फारमस (प्रेरक किसान) लिखित सहमति के आधार पर वरीयता दी जायेगी। यह जानकारी मुख्य पशु चिकित्साधिकारी रायबरेली डा. गजेन्द्र प्रताप सिंह ने देते हुए बताया कि विभागीय पशु चिकित्साधिकारी-पशुधन प्रसार अधिकारी की खुली बैठक में उपस्थिति सुनिश्चित हो। चयनोपरान्त वैक्सीनेटर को विभागीय प्रशिक्षण अवधि 1.5 दिन टीकाकरण, टैगिंग हेतु सहायक को 5 दिन तथा 1.0 दिन इन आफ की डाटा इन्ट्री का प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रत्येक वैक्सीनेटर को मानदेय के रूप में 3.00 रूपये टीकाकरण और सहायक को ईयर टैगिंग हेतु 2.50 पये प्रति पशु देय होगा एवं कार्य के दौरान सम्बन्धित को अलग-अलग रंग के एप्रेन उपलब्ध करायी जायेगी। जो भी व्यक्ति इच्छुक हो तत्काल उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी-पशु चिकित्साधिकारी/पशुधन प्रसार अधिकारी व ग्राम प्रधान से सम्पर्क स्थापित कर अपना चयन नियमानुसार एक सप्ताह के अन्दर कार्यालय मुख्य पशु चिकित्साधिकारी विकास भवन रायबरेली में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।टीकाकरण, टैगिंग हेतु सहायक को .5 दिन तथा 1.0 दिन इन आफ की डाटा इन्ट्री का प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रत्येक वैक्सीनेटर को मानदेय के रूप में 3.00 रूपये टीकाकरण और सहायक को ईयर टैगिंग हेतु 2.50 रू प्रति पशु देय होगा एवं कार्य के दौरान सम्बन्धित को अलग-अलग रंग के एप्रेन उपलब्ध करायी जायेगी। जो भी व्यक्ति इच्छुक हो तत्काल उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी-पशु चिकित्साधिकारी-पशुधन प्रसार अधिकारी व ग्राम प्रधान से सम्पर्क स्थापित कर अपना चयन नियमानुसार एक सप्ताह के अन्दर कार्यालय मुख्य पशु चिकित्साधिकारी विकास भवन रायबरेली में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।