ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
तेजपत्ता में औषधीय गुण भी हैं
January 20, 2020 • राकेश ललित वर्मा

रसोई में आपको आसानी से तेजपत्ता मिल जाएगा, यह ऐसा मसाला है, जिसका प्रयोग व्यंजनों में जायका बढ़ाने के लिए किया जाता है। ये पत्तियां कुछ हद तक यूकेलिप्टस की पत्तियों जैसी दिखती हैं। आपको जानकार हैरानी होगी कि इसका प्रयोग कई शारीरिक बीमारियों के उपचार के लिए भी किया जा सकता है। ये पत्तियां औषधीय गुणों से परिपूर्ण होती हैं, जो किडनी की समस्या से लेकर कैंसर जैसी घातक बीमारी तक का इलाज कर सकती हैं। इस लेख में जानिए कि तेज पत्ता किस प्रकार आपके स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हो सकता है।
- मधुमेह: तेज पत्ते के औषधीय गुण मधुमेह के मरीजों के लिए लाभ्दायक हो सकते हैं। डायबिटीज वाले लोगों की मदद कर सकता है। खाद्य पदार्थों का स्वाद बढ़ाने के अलावा ये पत्तियां ग्लूकोज मेटाबॉलिजम में अहम भूमिका निभा सकती हैं। 
- पाचन स्वास्थ्य: पाचन स्वास्थ्य को ठीक रखने के लिए भी तेज पत्ते का प्रयोग किया जा सकता है। गर्म पानी में तेज पत्ता डालकर पीने से कब्ज व डायरिया जैसी पाचन समस्याओं से निजात पाया जा सकता है।
- ओरल हेल्थ: दांतों की सेहत के लिए भी तेज पत्ते के फायदे देखे जा सकते है, तेज पत्ता मसूड़ों को मजबूत बनाने का काम कर सकता है। इसमें मौजूद विटामिन-सी मसूड़ों और दांतों को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है। इसके अलावा, तेज पत्ता एंटीइंफ्लेमेटरी गुणों से समृद्ध होता है, जो मसूड़ों और दांत दर्द जैसी स्थिति में लाभकारी हो सकता है।
- कैंसर: तेज पत्तियां कैंसर जैसी घातक बीमारी से बचाव का काम भी कर सकती हैं। मानव कैंसर सेल लाइनों पर किए गए एक अध्ययन के अनुसार, तेज पत्ते में मौजूद एंटीकैंसर गुण प्रभावी रूप से काम कर सकते हैं।
तेज पत्ते में मौजूद सिनोल व ल्यूकेमिया कैंसर सेल लाइनों के विकास को कम कर सकते हैं। इसके अलावा, ये पत्तियां स्तन कैंसर चिकित्सा में भी कारगर पाई गई हैं। एक ऑस्ट्रेलियाई अध्ययन के अनुसार तेज पत्ता कोलन कैंसर की रोकथाम कर सकता है।
- दर्द व सूजन: दर्द व सूजन के लिए भी तेज पत्ते के फायदे बहुत हैं। एक अध्ययन में पाया गया कि ये पत्तियां नामक एंजाइम की गतिविधि को रोकने का काम करती हैं, इस एंजाइम के कारण सूजन बढ़ सकती है। 
तेज पत्ते सूजन से लड़ने में मदद करता है। 
- फंगल संक्रमण: तेज पत्ता एंटीफंगल गुणों से भी समृद्ध होता है, जो विशेष रूप से कैंडिडा संक्रमण के खिलाफ प्रभावी रूप से काम कर सकता है। त्वचा संबंधी फंगल संक्रमण के लिए तेज पत्ते का तेल इस्तेमाल में लाया जा सकता है। 
- घाव को भरना: तेज पत्ता घाव को बेहतर रूप से भरने में मदद कर सकता है। ये विटामिन-सी और ए का एक अच्छा स्रोत है, जो घाव को भरने का काम कर सकता है। देखा गया है कि विटामिन-सी और ए की कमी के कारण घाव संवेदनशील हो सकते हैं। 
वजन घटाने में: शरीर से अत्यधिक चर्बी हटाने कि लिए तेज पत्ते का इस्तेमाल किया जा सकता है। जैसा कि आप जानते हैं कि तेज पत्ता विटामिन-सी से समृद्ध होता है, इसलिए यह वजन घटाने में आपकी मदद कर सकता है। इसके अलावा, इसमें मौजूद फाइबर भी वजन नियंत्रित करने में आपकी मदद कर सकता है 
- किडनी के लिए: तेज पत्ता किडनी स्टोन को रोकने में मदद कर सकता है। अध्ययन में पाया गया है कि पारंपरिक औषधीय जड़ी-बूटियों के साथ तेज पत्ता शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को कम कर सकता है, जो पथरी के विकास को बढ़ावा देता है।
- हृदय स्वास्थ्य: हृदय स्वास्थ्य के लिए तेज पत्ते के फायदे बहुत हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार तेज पत्ते में रूटीन और कैफिक एसिड नामक तत्व पाए जाते हैं। रूटीन हृदय की दीवारों को मजबूत और कैफिक एसिड खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है। उच्च कोलेस्ट्रॉल का स्तर दिल के दौरे या स्ट्रोक का कारण बन सकता है।
- त्वचा के लिए लाभदायक: त्वचा के लिए भी तेज पत्ता के फायदे बहुत हैं। ये पत्तियां विटामिन-ए का एक अच्छा स्रोत हैं, जो प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करती हैं। त्वचा के स्वास्थ्य के रखरखाव के लिए विटामिन-ए जरूरी है। इसके अलावा, तेज पत्ता विटामिन-सी से भी समृद्ध होता है, जो कोलेजन को बढ़ाने के साथ-साथ सूर्य की हानिकारक पराबैंगनी किरणों से त्वचा की रक्षा करता है।