ALL News Religion Views Health Astrology Tourism Story Celebration Film/Sport Vedio
वेलेंटाइन डे का विरोध कर अपने सनातन धर्म को बचाना है
February 14, 2020 • रायबरेली। • News

राष्ट्रीय सनातन महासभा की एक बैठक  अहियारायपुर, रायबरेली में की गई जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में पार्टी की राष्ट्रीय सचिव ज्ञान प्रकाश तिवारी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत हमारी देवभूमि है और भारतीय संस्कृति पर इस पाश्चात्य संस्कृति का हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और जरूरत पड़ी तो राष्ट्रीय सनातन महासभा इस मुद्दे पर खुलकर विरोध करेगी उन्होंने कहा कि आज पाश्चात्य संस्कृति हमारे भारतीय युवक युवतियों को पूरी तरह से भ्रमित करके देश को पतन की ओर ले जा रहा है उन्होंने भारत जैसे सनातन देश में सभी युवक-युवतियों से अपील की है कि प्रत्येक वर्ग को भारतीय संस्कृति पर हो रहे कुठाराघात के विरोध में आगे आना चाहिए अपने देश की संस्कृत की रक्षा करनी चाहिए क्योंकि भारतीय संस्कृति में भारत को विश्व गुरु का दर्जा दिलाना है।
श्री तिवारी ने कहा, हमारी पार्टी कई जिलों में वेलेंटाइन डे का विरोध कर रही है और आगे भी करती रहेगी यह हमारे सनातन धर्म के विरुद्ध है इस अवसर पर राष्ट्रीय ज्ञान प्रकाश तिवारी ने कहा कि करोड़ों भारतीयों को 14 फरवरी को वेलेंटाइन डे ही मनाते हैं पर बहुत ही कम युवा पीढ़ी इस सच को जानते हैं कि 14 फरवरी को भगत सिंह राजगुरु सुखदेव को लाहौर में फांसी की सजा सुनाई गई थी हमें ऐसे क्रांतिकारी नेता को याद करके उन्हें श्रद्धांजलि देने चाहिए।
इस अवसर पर प्रदेश सचिव चंदन सिंह जिला अध्यक्ष शिवम त्रिवेदी जिला उपाध्यक्ष गीतेश दीक्षित शिव प्रकाश त्रिवेदी नवनीत मौर्य अंकुर शुक्ला मनीष पांडे विकास मौर्य अमित सिंह अजय यादव अरुण द्विवेदी धीरेंद्र तिवारी अंशु अवस्थी शशांक पांडे मनोज तिवारी राजेश सिंह राजकमल तमाम पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता ने वैलेंटाइन डे का खुलकर विरोध किया और सब ने कहा वैलेंटाइन डे हमारी भारतीय संस्कृति पर हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा हमें पश्चात सभ्यता को हटाना होगा और विदेशी संस्कृति को भगाना होगा!